Bhulekh BhuNaksha » जमीन पट्टा » उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये

उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये

उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये : अगर आप हमारे यूपी से है तब sarkari jameen ka patta kaise banaye इसकी जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी है। राज्य में निवासरत व्यक्तियों को जिनके नाम पर घर नहीं है लेकिन उनके पूर्वज के समय से वहां रह रहे है तो ऐसे लोगों को हैसियत प्रमाण पत्र प्रदान किया जाता है। लेकिन up के अधिकांश लोगों को नहीं मालूम कि जमीन का पट्टा कैसे बनवाते है ? इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करते है ? जिससे इस महत्वपूर्ण सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे है।

राजस्व विभाग उत्तर प्रदेश ने जमीन का पट्टा यानि हैसियत प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा प्रदान किया है। आप घर बैठे अपने मोबाइल या कंप्यूटर से अपने घर जमीन के पट्टे हेतु आवेदन कर सकते है। इसके लिए आपको वेब पोर्टल पर निर्धारित प्रक्रिया का पालन करना होगा। उसके बाद आप ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे। यहाँ हम सभी स्टेप को सरल भाषा में बता रहे है। आप यहाँ बताये गए जानकारी को पूरी और ध्यान से पढ़ें।

उत्तर प्रदेश के जिलों की लिस्ट जहाँ जमीन का पट्टा के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे –

Agra (आगरा)Jhansi (झाँसी)
Aligarh (अलीगढ़)Kannauj (कन्नौज)
Ambedkar Nagar (अम्बेडकर नगर)Kanpur Dehat (कानपुर देहात)
Amethi (अमेठी)Kanpur Nagar (कानपुर नगर)
Amroha (अमरोहा)Kasganj (कासगंज)
Auraiya (औरैया)Kaushambi (कौशाम्बी)
Ayodhya (अयोध्या)Kheri (खेरी)
Azamgarh (आजमगढ़)Kushinagar (कुशीनगर)
Baghpat (बागपत)Lalitpur (ललितपुर)
Bahraich (बहराइच)Lucknow (लखनऊ)
Ballia (बलिया)Mahoba (महोबा)
Balrampur (बलरामपुर)Mahrajganj (महाराजगंज)
Banda (बाँदा)Mainpuri (मैनपुरी)
Bara Banki (बाराबंकी)Mathura (मथुरा)
Bareilly (बरेली)Mau (मऊ)
Basti (बस्ती)Meerut (मेरठ)
Bijnor (बिजनौर)Mirzapur (मिर्ज़ापुर)
Budaun (बदायूँ)Moradabad (मुरादाबाद)
Bulandshahar (बुलंदशहर)Muzaffarnagar (मुजफ्फरनगर)
Chandauli (चंदौली)Pilibhit (पीलीभीत)
Chitrakoot (चित्रकूट)Pratapgarh (प्रतापगढ)
Deoria (देवरिया)Prayagraj (प्रयागराज)
Etah (एटा)Rae Bareli (रायबरेली)
Etawah (इटावा)Rampur (रामपुर)
Farrukhabad (फ़र्रूख़ाबाद)Saharanpur (सहारनपुर)
Fatehpur (फतेहपुर)Sambhal (सम्भल)
Firozabad (फ़िरोजाबाद)Sant Kabir Nagar (संत कबीरनगर)
Gautam Buddha Nagar (गौतमबुद्ध नगर)Sant Ravidas Nagar (Bhadohi) (संत रविदास नगर)
Ghaziabad (गाजियाबाद)Shahjahanpur (शाहजहाँपुर)
Ghazipur (ग़ाज़ीपुर)Shamli (शामली)
Gonda  (गोंडा)Shrawasti (श्रावस्ती)
Gorakhpur (गोरखपुर)Siddharthnagar (सिद्धार्थनगर)
Hamirpur (हमीरपुर)Sitapur (सीतापुर)
Hapur (हापुड़)Sonbhadra (सोनभद्र)
Hardoi (हरदोई)Sultanpur (सुल्तानपुर)
Hathras (हाथरस)Unnao (उन्नाव)
Jalaun (जालौन)Varanasi (वाराणसी)
Jaunpur (जौनपुर)

उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये ऑनलाइन

अगर आपके पूर्वज कई पीढ़ियों से उस घर या जमीन में रह रहे है लेकिन आपके पास कोई भी सरकारी कागजात नहीं तो आप पट्टा के लिए आवेदन कर सकते है। आवेदन ऑनलाइन कर सकेंगे। जमीन का पट्टा के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करना है इसकी पूरी जानकारी यहाँ बता रहे है। आपको सभी स्टेप पढ़कर वैसा ही करते जाना है। तो चलिए शुरू करते है।

स्टेप-1 up bhulekh वेब पोर्टल को ओपन करें

पट्टा हेतु ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे up bhulekh की ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करना है। इसके लिए कोई भी इंटरनेट वेब ब्राउज़र खोलें और upbhulekh.gov.in टाइप करके एंटर करें। या यहाँ दिए गए लिंक से भी डायरेक्ट वेबसाइट को ओपन कर सकते है – यहाँ क्लिक करें

स्टेप-2 प्रमाण पत्रों का सत्यापन विकल्प को सेलेक्ट करें

यूपी भूलेख की वेबसाइट खुल जाने के बाद स्क्रीन पर अलग अलग ढेर सारे विकल्प दिखाई देंगे। यहाँ आपको सबसे नीचे की तरफ आना है। यहाँ महत्वपूर्ण लिंक का ऑप्शन दिखेगा। जमीन पट्टा के लिए आवेदन करने हेतु इसमें प्रमाण पत्रों का सत्यापन विकल्प को सेलेक्ट कीजिये।

up-jameen-ka-patta

स्टेप-3 हैसियत प्रमाण पत्र हेतु आवेदन विकल्प को सेलेक्ट करें

अगले स्टेप में एक नई वेबसाइट खुल जाएगी। यहाँ भी आपको भूलेख से सम्बंधित अलग अलग विकल्प दिखाई देंगे। इसमें हैसियत प्रमाण पत्र हेतु आवेदन विकल्प को सेलेक्ट करना है।

up-jameen-ka-patta

स्टेप-4 नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण विकल्प को चुनें

जमीन का पट्टा के लिए ऑनलाइन आवेदन हेतु आपको सबसे पहले पंजीयन करना होगा। अगर आप पहले से पंजीयन कर चुके है तब आप username और password से लॉगिन कीजिये। अगर आप नहीं किये है तब नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण विकल्प को सेलेक्ट करें।

panjiyan-kare

स्टेप-5 डिटेल भरकर पंजीयन करें

अब स्क्रीन पर पंजीयन फॉर्म खुल जायेगा। इसमें पूछे गए सभी विकल्प को ध्यान दे भरें। जैसे – लॉगिन आई डी, आवेदक का नाम, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर आदि को विवरण को ध्यान से भरें। सभी डिटेल को भरने के बाद सुरक्षित करें के बटन पर क्लिक करें।

up-jameen-ka-patta

स्टेप-6 ई-पोर्टल में लॉगिन करें

पंजीयन करने के बाद आपको फिर से लॉगिन पेज पर वापस आना है। यहाँ पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन बॉक्स में अपना Username और Password भरकर लॉगिन कीजिये। आपने अभी अभी पंजीयन किया है तब आपको मोबाइल नंबर में प्राप्त OTP को भरना है।

login-to-portal

सबमिट करने के बाद आपसे पासवर्ड बदलने के लिए कहा जायेगा। आप नई पासवर्ड बना लीजिये और इसे कही नोट करके रखें। अगली बार लॉगिन करके लिए इसकी जरुरत पड़ेगी।

स्टेप-7 जमीन पट्टा के लिए आवेदन करें

लॉगिन होने के बाद डैशबोर्ड खुल जाएगा। यहाँ आपको अलग अलग सर्विस का विकल्प दिखाई देगा। इसमें हैसियत प्रमाण पत्र हेतु आवेदन विकल्प को सेलेक्ट करें। फिर मांगी गई सभी जानकारी को भरें एवं सम्बंधित दस्तावेज को अपलोड करें। फिर सभी डिटेल को चेक करके आवेदन फॉर्म को पोर्टल पर सबमिट कर दें।

स्टेप-8 सेवा शुल्क भुगतान कीजिये

आवेदन सबमिट करने के बाद आपको सेवा शुल्क भुगतान का ऑप्शन मिलेगा। आपको आवेदन चार्ज पटाना है। इसके लिए आप नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से भुगतान कर सकते है। शुल्क भुगतान करने के बाद फाइनल सबमिट करने का ऑप्शन मिलेगा। आवेदन को फाइनल सबमिट करने के बाद आपको पावती मिलेगा। इसे सेव करके अपने पास रखना है।

स्टेप-8 आवेदन का स्टेटस चेक करें

हैसियत प्रमाण पत्र का आवेदन सबमिट करने के बाद उत्तर प्रदेश की राजस्व विभाग उस आवेदन पर कार्यवाही करेगा। अगर कोई अन्य विवरण की जरुरत पड़े तब आपको राजस्व विभाग के कार्यालय में भी जाना पड़ सकता है। आप लॉगिन करके अपने आवेदन का स्टेटस भी चेक कर सकते है। इसके लिए डैशबोर्ड में आवेदन की स्थिति विकल्प को सेलेक्ट करें और आवेदन संख्या भरकर सबमिट कीजिये।

यूपी राजस्व विभाग ने यूजर मैनुअल भी उपलब्ध कराया है। अगर आपको वेब पोर्टल पर पंजीयन करने या किसी भी सर्विस के लिए आवेदन करने में कोई समस्या आ रही हो तब इसे पढ़कर समझ सकते है। यूजर मैनुअल को डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

सारांश – उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये इसकी स्टेप by स्टेप सरल जानकारी यहाँ बताया गया है। अब आप घर बैठे ऑनलाइन पट्टा हेतु आवेदन कर सकेंगे। अगर ऑनलाइन आवेदन करने में आपको किसी तरह की परेशानी आये या इससे संबंधित आपके मन में कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। हम बहुत जल्दी आपको रिप्लाई करेंगे। धन्यवाद !

शेयर करें :

6 thoughts on “उत्तर प्रदेश में सरकारी जमीन का पट्टा कैसे बनाये”

  1. पत्रावली खो जाने से पट्टे की भूमि का क्या होगा

    Reply
    • आप राजस्व विभाग से दूसरी कॉपी निकलवा सकते है।

      Reply
    • आपको योजना के अंतर्गत पट्टा मिल सकता है। आप राजस्व विभाग में इस सम्बन्ध में आवेदन जमा करें।

      Reply
    • सर आप ग्राम पंचायत में पट्टा के लिए आवेदन करें।

      Reply

अपनी समस्या या सुझाव यहाँ लिखें