मुख्यपृष्ठ » स्टाम्प ड्यूटी एवं रजिस्ट्री चार्ज » जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है

जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है

जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है : जब भी हम कोई जमीन खरीदते है तो उसकी रजिस्ट्री करवाने से पहले मन में ये आता है, कि रजिस्ट्री में कितना खर्च आएगा। बहुत लोग इसके लिए किसी वकील से सलाह लेते है, जो बहुत अच्छी बात है। लेकिन आप स्वयं भी एक मोटी मोटा अनुमान लगा सकते है, कि रजिस्ट्री में करने में कितने पैसे लगेंगे। इसके लिए आपको बस कुछ बातों की जानकारी होनी चाहिए।

आज लगभग सभी राज्यों के राजस्व विभाग ने ऑफिसियल Stamp Duty and Registration का वेबसाइट उपलब्ध करवा दिया है। जिससे कोई भी व्यक्ति घर बैठे ऑनलाइन किसी भी जमीन की रजिस्ट्री में होने वाले खर्च की गणना कर सकता है। लेकिन अधिकांश लोगों को इसके बारे में नहीं मालूम। इसलिए यहाँ हम जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है, इसकी पूरी जानकारी बता रहे है। तो चलिए शुरू करते है।

jamin-registry-me-paisa

जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है ?

जमीन की रजिस्ट्री में लगने वाले पैसे में मुख्य होता है, स्टाम्प ड्यूटी चार्ज। यानि जमीन की रजिस्ट्री में जो खर्च आता है, उसे सरकार स्टाम्प के जरिये आपसे लेती है। अलग – अलग जमीन के अनुसार अलग – अलग स्टाम्प ड्यूटी लगाई जाती है। जैसे – गांव में जमीन खरीदने पर कम चार्ज लगता है और शहर में जमीन खरीदने पर ज्यादा चार्ज देना होगा। ये स्टाम्प ड्यूटी चार्ज उस जमीन की सर्किल रेट या जमीन का सरकारी रेट के अनुसार देना होता है। चलिए इसे नीचे पॉइंट के अनुसार समझते है –

  • गांव में जमीन खरीदने पर सर्किल रेट या जमीन का सरकारी रेट का 4-5% स्टाम्प शुल्क देना पड़ेगा। मानलो किसी जमीन का सर्किल रेट 1 लाख है, तो आपको 5 हजार रूपये स्टाम्प चार्ज देना होगा।
  • शहर में जमीन खरीदने पर सर्किल रेट का 6-7% स्टाम्प शुल्क देना होता है। मानलो किसी जमीन का सर्किल रेट 1 लाख है, तो आपको 7 हजार रूपये स्टाम्प चार्ज देना होगा।
  • ग्रामीण क्षेत्र में किसी महिला के नाम पर जमीन खरीदने पर 4% शुल्क देना होगा। यानि किसी जमीन का सर्किल रेट 1 लाख है, तो आपको 4 हजार रूपये स्टाम्प चार्ज देना होगा।
  • शहरी क्षेत्र में किसी महिला के नाम पर रजिस्ट्री करवाने से 6% स्टाम्प शुल्क देना होता है। यानि किसी जमीन का सर्किल रेट 1 लाख है, तो आपको 6 हजार रूपये स्टाम्प चार्ज देना होगा।
  • स्टाम्प शुल्क के साथ कुछ छोटी-छोटी खर्च भी आती है। जैसे – पेपर तैयार करने का खर्च, रजिस्ट्री हेतु वकील की फीस आदि।

ऊपर बताये गए पॉइंट से आप समझ गए होंगे कि रजिस्ट्री करवाने में स्टाम्प शुल्क ही मुख्य खर्च होता है। और ये शुल्क उस जमीन की सर्किल रेट या सरकारी रेट के अनुसार तय होती है। अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा कि जो जमीन हम खरीद रहे है उसकी सर्किल रेट पता कैसे करें ? तो चलिए इसके बारे में भी हम आपको बताते है –

जमीन का सर्किल रेट या सरकारी रेट कैसे पता करें ?

  • सबसे पहले अपने राज्य की राजस्व विभाग की Stamp and Registration की ऑफिसियल वेबसाइट में जाइये। जैसे – grsup.gov.in
  • अब स्क्रीन पर आपको अलग – अलग विकल्प दिखाई देंगे। यहाँ मूल्यांकन सूची विकल्प को सेलेक्ट करें।
  • इसके बाद अपना जनपद और उप निबंधक कार्यालय का नाम चुनें। फिर कॅप्टचा कोड भरकर मूल्यांकन सूची देखें विकल्प को चुनें।
  • अब स्क्रीन पर वर्तमान अवधि के अनुसार मूल्यांकन सूची की पीडीएफ फाइल आ जाएगी। इसे डाउनलोड करने के लिए प्रति देखें विकल्प को चुनें।
  • जैसे ही फाइल डाउनलोड हो जाये आप एरिया के अनुसार किसी भी जमीन का सर्किल रेट चेक कर सकते है।

जमीन रजिस्ट्री करने में कितना पैसा लगता है, इसकी पूरी जानकारी स्टेप by स्टेप हमने बताया है। अब कोई भी व्यक्ति किसी जमीन की रजिस्ट्री करवाने से पहले ये अनुमान लगा पायेगा कि रजिस्ट्री में कितना खर्च आने वाला है। अगर इससे सम्बंधित आपके मन में कोई अन्य सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में हमसे पूछ सकते है। हम बहुत जल्दी आपको रिप्लाई करेंगे।

जमीन रजिस्ट्री में होने वाले खर्च की जानकारी सभी लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए इस जानकारी को उन्हें व्हाट्सएप्प ग्रुप एवं फेसबुक में शेयर जरूर करें। इस वेबसाइट पर हम भू अभिलेख से सम्बंधित ऐसे ही महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करते है। अगर आप ऐसे ही नई – नई जानकारी सबसे पहले पाना चाहते है, तो गूगल सर्च बॉक्स में सर्च कीजिये – bhulekhbhunaksha.in धन्यवाद !

शेयर करें :

हेलो दोस्तों, इस वेबसाइट पर आपको ऑनलाइन भूअभिलेख भू नक्शा खसरा खतौनी जमाबंदी नकल शजरा रिपोर्ट निकालने की जानकारी मिलेगा। आप घर बैठे अपने मोबाइल से जमीन से सम्बंधित रिकॉर्ड चेक और डाउनलोड कर सकेंगे।

अपनी समस्या या सुझाव यहाँ लिखें