Bhulekh BhuNaksha » भूलेख » जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें jamin ka purana record kaise dekhe : अगर आप जमीन का पुराने से पुराना दस्तावेज देखना चाहते है तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें। जमीन खरीदते और बेचते समय जमीन का मालिक का नाम पता करना बहुत जरुरी होता है। पहले जब हमें जमीन का पेपर और रजिस्ट्री सम्बन्धी दस्तावेज चाहिए होता था तब राजस्व विभाग में जाकर निर्धारित प्रारूप में आवेदन जमा करते थे। उसके बाद ही जमीन का पेपर हमें मिल पाता था। लेकिन अब जमीन का रिकॉर्ड ऑनलाइन हो चुका है जिससे आप घर बैठे इसे देख सकते है।

डिजिटल इंडिया के तहत आज ज्यादतर सुविधाएँ ऑनलाइन मिलने लगी है। इसी में जमीन का रिकॉर्ड भी शामिल हो चुका है। सभी राज्यों के राजस्व विभाग ने आधिकारिक वेब पोर्टल उपलब्ध कराया है जहाँ जमीन का रिकॉर्ड ऑनलाइन चेक किया जा सकता है। लेकिन अधिकांश लोगों को इसकी जानकारी नहीं होने से इसका लाभ नहीं ले पा रहे है। लेकिन इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप बहुत ही आसानी से जमीन का दस्तावेज निकाल सकते है। तो चलिए जानते है कि जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ?

ऑनलाइन जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ?

जमीन का पुराना रिकॉर्ड चेक करने के लिए आपको अपने राज्य की राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करना होगा। चलिए आपको सबसे पहले एक राज्य बिहार में जमीन का रिकॉर्ड चेक करने की जानकारी बताते है। उसके बाद अन्य सभी राज्यों का भी बताएँगे। तो चलिए शुरू करते है।

स्टेप-1 जमीन रिकॉर्ड देखने की वेबसाइट में जाइये

बिहार राज्य की राजस्व विभाग ने जमीन का रिकॉर्ड देखने के लिए आधिकारिक वेबसाइट उपलब्ध कराया है जिसका वेब एड्रेस है – bhumijankari.bihar.gov.in आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर से इस वेब एड्रेस को ओपन कर सकते है। इस वेबसाइट पर डायरेक्ट जाने के लिए हमने यहाँ लिंक भी दे रहे है – यहाँ क्लिक करें

स्टेप-2 View Registered Document को सेलेक्ट करें

जैसे ही भूमि जानकारी बिहार की आधिकारिक वेबसाइट खुल जाए, स्क्रीन पर आपको अलग अलग ऑप्शन दिखाई देंगे। इसमें Bhumi Jankari Services में View Registered Document का ऑप्शन दिखाई देगा। जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखने के लिए इसी ऑप्शन को सेलेक्ट करें।

jamin-ka-purana-record

स्टेप-3 रिकॉर्ड का टाइम सेलेक्ट करें

अगले स्टेप में जमीन का दस्तावेज सर्च करने का ऑप्शन आएगा। यहाँ सेलेक्ट करना है कि आपको किस समय का रिकॉर्ड देखना है। जैसे कि –

  • Online Registration (2016 To Till Date)
  • Post Computerisation (2006 To 2015)
  • Pre Computerisation (Before 2005)

स्क्रीन में आपको ये तीन विकल्प दिखाई देंगे। ये सभी नए एवं पुराने रिकॉर्ड देखने का ऑप्शन है। इनमें से आप किसी एक विकल्प को सेलेक्ट करें। जैसे अगर हमें 2005 के पहले का रिकॉर्ड चेक करना है तब Pre Computerisation (Before 2005) विकल्प को सेलेक्ट करेंगे। इसके बाद Phase1 या Phase2 सेलेक्ट करें।

select-record-type

स्टेप-4 सर्च ऑप्शन सेलेक्ट करें

जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखने के लिए सर्च बॉक्स में दिए गए विकल्प को सेलेक्ट करना है। इसमें आप निर्धारित मापदंड के अनुसार सर्च बॉक्स में दिए गए ऑप्शन के द्वारा प्रॉपर्टी रिकॉर्ड देख सकते है। जैसे –

  • Registration Office
  • Property Location
  • Circle

आप इस ऑप्शन के द्वारा अपने सर्किल का पुराना रिकॉर्ड देख सकते हो। इसके अलावा आप अन्य ऑप्शन को सेलेक्ट करके भी सर्च कर सकेंगे।

search-land-record

स्टेप-5 Click Here to View Details ऑप्शन को सेलेक्ट करें

सर्च बॉक्स में डिटेल सेलेक्ट करके सर्च करने पर book type दिखाई देगा। इसमें जितने भी रिकॉर्ड मिलेंगे उसकी संख्या भी देख सकते है। इस रिकॉर्ड को देखने के लिए Click Here to View Details ऑप्शन को सेलेक्ट करें।

jamin-ka-purana-record

स्टेप-6 जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखें

अगले स्टेप में आपको सभी रिकॉर्ड की लिस्ट और पार्टी का नाम दिखाई देगा। इसमें आपको जिस जमीन का पुराना रिकॉर्ड देखना है उसके नीचे View Details का ऑप्शन को सेलेक्ट करें। जैसे नीचे स्क्रीनशॉट में हमने बताया है।

jamin-ka-purana-record

स्टेप-7 Deed Details चेक करें

जैसे ही आप View Details ऑप्शन को सेलेक्ट करेंगे, स्क्रीन पर उस जमीन का पुराना दस्तावेज यानि deed details खुल जाएगा। इसमें आप जमीन से सम्बंधित पूरी जानकारी चेक कर सकते है।

जमीन-का-पुराना-रिकॉर्ड

राज्यवार जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे निकाले

ऊपर हमने बिहार राज्य में जमीन का पुराना दस्तावेज और रिकॉर्ड देखने की जानकारी बताया है। इसी तरह अन्य राज्यों ने भी जमीन का रिकॉर्ड चेक करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट उपलब्ध कराया है। जहाँ आप जमीन से सम्बंधित जानकारी और पेपर प्राप्त कर सकते हो। नीचे हमने राज्य का नाम और जमीन का रिकॉर्ड चेक करने का लिंक दिया है। आप जिस राज्य से उस राज्य के सामने दिए गए लिंक को सेलेक्ट करें।

राज्य का नामभूमि जानकारी
Andhra Pradesh (आंध्र प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Assam (असम)यहाँ क्लिक करें
Arunachal Pradesh (अरुणाचल प्रदेश)
Bihar (बिहार)यहाँ क्लिक करें
Chhattisgarh (छत्तीसगढ़)यहाँ क्लिक करें
Delhi (दिल्ली)यहाँ क्लिक करें
Gujarat (गुजरात)यहाँ क्लिक करें
Goa (गोवा)
Haryana (हरियाणा)यहाँ क्लिक करें
Himachal Pradesh (हिमाचल प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Jharkhand (झारखंड)यहाँ क्लिक करें
Kerla (केरल)यहाँ क्लिक करें
Karnataka (कर्नाटक)यहाँ क्लिक करें
Maharashtra (महाराष्ट्र)यहाँ क्लिक करें
Madhya Pradesh (मध्य प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Manipur (मणिपुर)यहाँ क्लिक करें
Meghalaya (मेघालय)
Mizoram (मिजोरम)
Nagaland (नागालैंड)
Odisha (उड़ीसा)यहाँ क्लिक करें
Punjab (पंजाब)यहाँ क्लिक करें
Rajasthan (राजस्थान)यहाँ क्लिक करें
Sikkim (सिक्किम)
Tamil Nadu (तमिल नाडू)यहाँ क्लिक करें
Telangana (तेलंगाना)यहाँ क्लिक करें
Tripura (त्रिपुरा)यहाँ क्लिक करें
Uttar Pradesh (उत्तर प्रदेश)यहाँ क्लिक करें
Uttrakhand (उत्तराखंड)यहाँ क्लिक करें
West Bengal (पश्चिम बंगाल)यहाँ क्लिक करें

अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

जमीन का ५० साल पुराना रिकॉर्ड कैसे निकाले ?

जमीन का 50 साल पुराना रिकॉर्ड निकालने के लिए आपको राजस्व विभाग ने जाना होगा। वहां निर्धारित प्रपत्र में आवेदन देकर रिकॉर्ड प्राप्त कर सकते है। अधिकांश राज्य के राजस्व विभाग ने पुराना रिकॉर्ड ऑनलाइन नहीं किया है।

जमीन का पुराना प्राप्त करने के लिए कितना पैसा लगेगा ?

राजस्व विभाग से जमीन का पुराना रिकॉर्ड निकवालने में कोई भी पैसा नहीं देना होगा। हाँ कुछ मामूली फीस जरूर लग सकती है। अगर आपसे पैसा माँगा जा रहा है, तो उच्च अधिकारी से शिकायत कर सकते है।

मेरे जमीन का पुराना रिकॉर्ड नहीं मिल रहा है क्या करें ?

अगर आपके जमीन का पुराना रिकॉर्ड नहीं मिल रहा है तो आप राजस्व विभाग में जाकर आवेदन कर सकते है। वहां सभी पुराने जमीन के रिकॉर्ड सुरक्षित रखे जाते है।

जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें, इसकी पूरी जानकारी स्टेप by स्टेप आसान भाषा में यहाँ बताया गया है। अब कोई भी व्यक्ति घर बैठे किसी भी जमीन का पुराना दस्तावेज निकाल सकता है। अगर ऑनलाइन रिकॉर्ड निकालने में आपको कोई परेशानी आये या इससे सम्बंधित आपके मन में कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। हम बहुत जल्दी आपको रिप्लाई करेंगे।

जमीन का पुराना दतावेज कैसे निकाले इसकी जानकारी हम सभी के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इसलिए इस पोस्ट को सोशल मीडिया में शेयर करें जिससे अन्य लोगों को भी मदद मिल सकें। इस वेबसाइट पर भूलेख, भू नक्शा, लैंड रिकॉर्ड से सम्बंधित जानकारी प्रदान किया जाता है। अगर आप इसके संबंध में नई नई जानकारी पाना चाहते है तो गूगल पर bhulekhbhunaksha.in सर्च करके भी इस वेबसाइट पर आ सकते है। धन्यवाद !

शेयर करें :
Bhulekh BhuNaksha

हेलो दोस्तों, इस वेबसाइट पर आपको ऑनलाइन भूअभिलेख भू नक्शा खसरा खतौनी जमाबंदी नकल शजरा रिपोर्ट निकालने की जानकारी मिलेगा। आप घर बैठे अपने मोबाइल से जमीन से सम्बंधित रिकॉर्ड चेक और डाउनलोड कर सकेंगे।

68 thoughts on “जमीन का पुराना रिकॉर्ड कैसे देखें ऑनलाइन”

  1. सर मेरे प्रदादा की जमीन थी पर 1956 में वो उनके नाम नही हो कर के उनके बड़े पिता के बेटे के नाम हो गई है अब हमे पुराना से पुराना 1956 से पहले का रिकॉर्ड प्राप्त करना है कहा से होगा
    में राजस्थान के बाड़मेर जिले से हुं।।

    प्रतिक्रिया
  2. Sir 1990 में हमारी बिच जमीन से 60 ft रोड निकलने के बाद 1 साइड की जगह संसकीय हो गई तो वो निजी हो सकती है क्या ..लगभग 35×100 जिस पर में घर बना चाहता हु

    प्रतिक्रिया
  3. Sir,
    Mere Naam Ram Niranjan Sharma hai. Mera Barh, Railly me Dada ka jamn hai. lakin usme mere bade chacha kabja kar liye hai. bahut pahle hum ne unse us jamin ke bare me baat kiya to wo bole ke kya tum kabhi registry kiya hai jo mere puch raha hai. mere ab papa nahi hai aur bade chacha be death ho gaya. hum ko us jamin ka asli naam kaise pata kare. plz sir koi rasta batye. mere mobile no hai 8797463223. abhi hum log Jamshedpur , Jharkhand rahte hai.

    प्रतिक्रिया
  4. सर मेरे पिता के दादा जी का मकान गोपालगंज आर्य समाज मन्दिर के सामने वाली गली मे स्थित है ओर हमारे पास मकान के पुराने कागजात गुम हो गये है आप से निवेदन है हमारी पुस्तैनी मकान के कागजात हमै दिलावै मेरे पिता के दादा जी का नाम भुवान लाल पिता तोताराम जी तेली प्रतापगढ जिला गोपालगंज आर्य समाज मन्दिर के सामने वाली गली

    प्रतिक्रिया
  5. Sir Sar Mujhe Meri Jameen sankhya 62 hai jo khasra number hai yah Jameen Mere Dada Ne Kisi do vyaktiyon ke Hath bheji thi vah Jameen Kisi Aur Ke Hath Bechi thi Huauski Jameen ka bainama Nahin hua hai main yah Janna Chahta Hun Ki uska beanna Mein Hua Hai Ki Nahin Hua Hai vah Jameen Mujhe Wapas mil Jayegi Bahana Bana Hua Hai years 1985h ki baat hai yah san 2 ki hai village Gujraila teshil shahabad jila armour utter pradesh

    प्रतिक्रिया
  6. सर मेरे गांव में मेरे दादा जी के नाम पर 40 साल पहले पट्टा मिला था ग्राम प्रधान के जरिए से और और वो कागजखो गया है। और वहा की जमीन पे दादा जी का कब्जा है। दादा जी अभी घर बना रहें थे लेकिन उनका घर पड़ोसी के लोगो ने रोक दीया है। आप बता सकते हैं कि क्या वो कागज कोई प्रति मिल सकती है। और कहा से कैसे मिलेगी। और कागज मिलने पर कोई परेशान तो नही करेगा न कोई।

    प्रतिक्रिया
  7. सर,हमारे पितामह स्व.लेखराज माहेश्वरी पुत्र मंगलसेन गांव पचौं तहसील सिकंदराराऊ उतर प्रदेश मे 1900सन् से 1965 की चकबन्दी तक थी उसके बाद का पता नही।हमारे पिता का देहांत 1980 मेंं हो गया था। हम उत्तराखंड के अलमोड़ा शहर मे लगभग100 से रह रहे हैं।हमें भूमि पता नहीं है पचौं गांव मे कितनी है कैसे पता चल सकता हैं हमें जानकारी देने की कृपा करें।

    प्रतिक्रिया
      • आदरणीय सर नमस्कार आपकी यह साइड हमें बहुत अच्छी लगी हमसे अपनी पुरानी जमीन खाता नंबर से घाटा संख्या से पता कर सकते हैं और यह भी जान सकते हैं कि वह जमीन किसके नाम पर है और कितनी है

        लेकिन सर मुझे एक हेल्प चाहिए सर हमारी 4 बीघा जमीन कहीं पर बाबा के नाम से जमा है लेकिन हमें जमीन का खेत नंबर वगैरह नहीं पता तो अपनी जमीन कैसे पता करें चकबंदी गांव में आई हुई है

        प्रतिक्रिया
    • शालिनी जी, आपके पिताजी की जमीन पर कानूनन आप सभी का बराबर अधिकार है। आप सभी उसके 5 हिस्से कर लीजिये। अगर भाई हिस्सा देने से मना करें तब आप क़ानूनी सहायता ले सकती है।

      प्रतिक्रिया
  8. राज्य राजस्थान जिला बांसवाड़ा तहसील कुशलगढ़ जमीन का पुराना से पुराना रिकॉर्ड कहां पर मिलेगा वह कार्यालय कहां पर स्थित है कमेंट में सर जरूर बताइए

    प्रतिक्रिया
      • सर मै प्रतापगढ जिले धरियावद से हु मेरे पिता प्रतापगढ के है ओर हमारे पूर्वज यानी मेरे पिता के दादा जी का मकान है जिसके कागज हमारे पास नही।है मेरे पिता के दादा जी का नाम इस प्रकार है भुवान लाल पिता तोताराम जी तेली निवास प्रतापगढ राजस्थान गोपालगंज आर्य समाज मन्दिर के सामने वाली गली सर मुझे पुराने कागज की बहुत जरूरत है

        प्रतिक्रिया

अपनी समस्या या सुझाव यहाँ लिखें