Bhulekh BhuNaksha » भू अभिलेख » जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता करें

जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता करें

जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता करें jameen par loan hai ya nahi kaise pata kare : अगर आप अपनी मेहनत से कमाए गए धन के द्वारा किसी जमीन अपनेको खरीदने के लिए जा रहे हैं और जमीन मालिक से आपकी बातचीत भी तय हो गई है। तो आपको थोड़ी सावधानी अवश्य बरतनी चाहिए क्योंकि धोखाधड़ी के इस जमाने में कई लोग अपनी जमीन पर लोन ले करके रखते हैं और उस लोन वाली जमीन को वह किसी अन्य व्यक्ति को बेच देते हैं।

इस प्रकार से जो व्यक्ति जमीन खरीद लेता है, उसे आगे चलकर के आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए जमीन पर लोन चल रहा है या नहीं इसके बारे में आपको अवश्य ही जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। इस आर्टिकल में आप जानेंगे की “जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता करें” अथवा “जमीन का लोन कैसे जाने।”

jameen-par-loan-hai-ya-nahi-kaise-pata-kare

जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता करें ?

जमीन की खरीदारी करने के लिए व्यक्ति अपनी जिंदगी की जमा पूंजी लगा देता है परंतु अगर जमीन पर कोई समस्या आ जाती है तो व्यक्ति को काफी दुख होता है। कई बार यह देखने में आया है कि लोग एक ही जमीन को अलग-अलग लोगों को बेच देते हैं और उस जमीन पर पहले से ही लोन चलता रहता है।

ऐसे में जो व्यक्ति जमीन लेता है उस पर लोन की सारी सर दर्दी आ जाती है और उसकी जमीन कानूनी कार्रवाई में फंस जाती है। इसलिए ऐसी परेशानी से बचने के लिए यह जरूरी होता है कि व्यक्ति इस बारे में पता करें कि किसी जमीन पर कोई लोन है अथवा नहीं ताकि बाद में उसे किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े।

1. रजिस्ट्री कार्यालय से पता करें

जब किसी व्यक्ति को जमीन बेचनी होती है और किसी व्यक्ति को जमीन लेनी होती है तो वह दोनों अपने इलाके के अंतर्गत आने वाले रजिस्ट्री कार्यालय में जाते हैं।

 और रजिस्ट्री कार्यालय में जाकर के ही जमीन की खरीदी बिक्री की सारी प्रक्रिया संपूर्ण होती है और वही जमीन लेने वाला व्यक्ति जमीन बेचने वाले व्यक्ति से पैसे प्राप्त करता है और जमीन उसके नाम कर देता है।

इस प्रकार से आप रजिस्ट्री कार्यालय में जाकर के लोन रजिस्ट्री पेपर में भी यह देख सकते हैं कि जमीन पर लोन है अथवा नहीं। इस बात की जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको रजिस्ट्री कार्यालय से संपत्ति का विवरण (7/12 रिकॉर्ड, पंजीकरण प्रमाण पत्र) हासिल करना होगा। इसके बाद आप उसमें चेक कर सकते हैं कि जमीन पर पहले से किसी भी प्रकार का लोन है या नहीं।

अगर जमीन पर लोन होता है तो आप पहले सामने वाले व्यक्ति को कहें कि वह लोन भरे उसके बाद ही आप जमीन के पैसे की पेमेंट करेंगे।

2. प्रॉपर्टी का ऑनलाइन वेरीफिकेशन

ऑनलाइन इस बात को पता करने के लिए की जमीन पर लोन है या नहीं आप प्रॉपर्टी का वेरिफिकेशन ऑनलाइन करवा सकते हैं। इसके लिए आपको सेंट्रल रजिस्ट्री ऑफ सिक्योरिटाइजेशन एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट की वेबसाइट पर जाना होगा।

यह वेबसाइट इंडियन गवर्नमेंट के द्वारा चलाई जाती है जिसके द्वारा आप यह चेक कर सकते हैं कि जमीन पर कोई लोन चल रहा है अथवा नहीं।

सेंट्रल रजिस्ट्री ऑफ सिक्योरिटाइजेशन एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट से जमीन पर लोन की जानकारी प्राप्त करने के लिए दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें।

  • आपको सबसे पहले किसी भी ब्राउज़र में सेंट्रल रजिस्ट्री ऑफ सिक्योरिटाइजेशन एसेट रिकंस्ट्रक्शन एंड सिक्योरिटी इंटरेस्ट वेबसाइट को ओपन कर लेना है – financialservices.gov.in
  • वेबसाइट ओपन होने के बाद आपको टोटल दो प्रकार के ऑप्शन दिखाई देंगे। Public Search – Asset Based और दूसरा Public Search – Debtor  Based
  • Public Search – Asset Based – इसमें आप प्रॉपर्टी की इंफॉर्मेशन को भरकर प्रॉपर्टी की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • Public Search – Debtor  Based – इसमें आपको इसमें लोन की इंफॉर्मेशन भरनी होती है। उसके बाद आपको यह जानकारी पता चल जाती है कि लोन का स्टेटस क्या है।

3. जमीन मालिक तथा अन्य लोगों से पूछना

जब किसी व्यक्ति की जमीन आप खरीदने के लिए जाएं तब आपको उस व्यक्ति से ही यह पूछ लेना है कि वह व्यक्ति जो जमीन बेच रहा है उस पर किसी भी प्रकार का लोन तो नहीं चल रहा है। हालांकि अधिकतर ऐसे मामले में लोगों के द्वारा झूठ बोला जाता है। इसलिए आप उस व्यक्ति के अगल-बगल के लोगों से भी पूछ सकते हैं।

4. गाटा संख्या चेक करें

अगर किसी व्यक्ति के द्वारा अपनी जमीन पर सरकारी बैंक से लोन लिया गया है और उसमें दस्तावेज के तौर पर अपनी जमीन की खतौनी लगाई गई है।

तो लोन मिल जाने के पश्चात बैंक के द्वारा उस व्यक्ति की खतौनी में दर्ज गाटा संख्या पर मोहर लगा दी जाती है और ऑनलाइन यह फीड कर दिया जाता है कि किसी स्पेसिफिक गाटा संख्या पर लोन चल रहा है।

इस प्रकार से जिस जमीन को आप खरीदने जा रहे हैं आपको उस जमीन के मालिक से गाटा संख्या पता कर लेना है। उसके बाद आपको अपने राज्य की आधिकारिक खसरा खतौनी वाली वेबसाइट पर जाना है। वेबसाइट पर जाने के बाद आपको सर्च गाटा संख्या वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।

अब आपको निश्चित जगह में गाटा संख्या को दर्ज करना हैव उसके बाद आपको सर्च वाली बटन दबाना है। ऐसा करने पर जमीन की इंफॉर्मेशन आपकी स्क्रीन पर आएगी जिसमें आपको यह भी दिखाई देगा कि उस जमीन पर कोई लोन चल रहा है अथवा नहीं। अगर लोन चल रहा है तो लोन किसने लिया है और कितने रुपए का लोन है।

लोन वेरिफिकेशन के लिए जरूरी दस्तावेज

नीचे उन दस्तावेज के नाम दिए गए हैं जो आपके तब काफी काम आते हैं, जब आप यह पता करना चाहते हैं कि किसी जमीन पर लोन है या नहीं।

1. बिल्डिंग अप्रूवल प्लान

इसे आपके लोकल विकास प्राधिकरण के द्वारा जारी किया जाता है, जिसमें इस बात की जानकारी होती है कि प्रॉपर्टी का मालिक कौन है। प्रॉपर्टी में कितने पार्टनर हैं साथ ही प्रॉपर्टी की खरीदारी लोन पर की गई है या फिर बिना लोन लिए हुए की गई है।

2. लाइसेंस्ड प्रोफेशनल काउंसलर

राज्य सरकार के द्वारा इस सर्टिफिकेट को जारी किया जाता है जिसमें जमीन के मालिक की जानकारी होती है।

3. टाइटल डीड

यह प्रमाण पत्र इस बात को बताता है कि जमीन का मालिकाना हक कितने लोगों के पास है।

4. सेल डीड

इसमें इस बात की जानकारी होती है कि जमीन की बिक्री किसके नाम पर की गई है और कितने पैसे में जमीन बेची गई है, साथ ही विभिन्न नियम और शर्त भी इसमें लिखी हुई होती है।

जमीन पर लोन है तो क्या करें ?

ऊपर दिए हुए तरीकों से जब आप यह पता कर ले कि किसी जमीन पर लोन चल रहा है तो आपको ऐसी जमीन को तब तक नहीं खरीदना चाहिए जब तक जमीन का मूल मालिक चल रहे लोन की पेमेंट ना कर दे अर्थात जमीन पर से लोन को ना हटा दे।

क्योंकि अगर आप लोन वाली जमीन खरीद लेंगे तो उस पर जो लोन चल रहा है उस वजह से आपको जमीन का मालिकाना हक जल्दी नहीं मिलेगा।

क्योंकि तीसरा पक्ष भी जमीन पर अपना दावा ठोकेगा। इसलिए पहले जमीन मालिक से जमीन का लोन भरवाले उसके बाद ही जमीन खरीदने की आगे की कार्रवाई को शुरू करें ताकि आगे चलकर के किसी भी प्रकार की समस्या ना हो, ना हीं आप कानूनी दांवपेच में फंसे।

सारांश –

जमीन पर लोन है या नहीं पता करने के लिए ऑनलाइन भू अभिलेख विवरण चेक करें। अगर जमीन पर लोन लिया गया है तब ऑनलाइन रिकॉर्ड में लोन का विवरण दिया रहता है। इसके अलावा आप रजिस्ट्री कार्यालय से उस जमीन की डिटेल्स निकलवा सकते है। आप जमीन मालिक या आसपास के लोगों से पूछकर उस जमीन का लोन जान सकते है। सरकारी वेबसाइट पर प्रॉपर्टी का ऑनलाइन वेरीफिकेशन करके भी जमीन पर लोन है या नहीं ये पता किया जा सकता है।

जमीन को अपने नाम कैसे करें

जमीन किसके नाम पर है 2 मिनट में पता करें

खेत किसके नाम है कैसे जाने ऑनलाइन

ऑनलाइन रजिस्ट्री कैसे चेक करें

सामान्य प्रश्न (FAQ)

जमीन पर लोन चल रहा हो तो क्या करें?

अगर आप जिस जमीन को खरीदना चाहते है और उसमे लोन चल रहा है तब बिना उसे पटाये उस जमीन को नहीं खरीदना चाहिए। क्योंकि रजिस्ट्री के समय समस्या आ सकती है। आप पुरे कागजात को देखकर ही आगे का निर्णय लें।

किसी जमीन पर लोन है या नहीं कैसे जाने?

किसी जमीन पर लोन है या नहीं ये जानने का सबसे आसान तरीका है भूलेख विवरण चेक करना। आज भूलेख विवरण ऑनलाइन उपलब्ध है। आप उस जमीन के खसरा नंबर के द्वारा भू अभिलेख चेक कर सकते है।

जमीन पर लोन कैसे लिया जाता है ?

जमीन के ओरिजिनल पेपर के माध्यम से बैंक से लोन उठा सकते है। लोन के एवज में बैंक आपके जमीन के ओरिजिनल पेपर अपने पास रख लेती है और ऑनलाइन रिकॉर्ड में भी लोन विवरण अंकित हो जाता है। आप बिना लोन पटाये अपनी जमीन नहीं बेच पाएंगे।

शेयर करें :

हेलो दोस्तों, इस वेबसाइट पर आपको ऑनलाइन भूअभिलेख भू नक्शा खसरा खतौनी जमाबंदी नकल शजरा रिपोर्ट निकालने की जानकारी मिलेगा। आप घर बैठे अपने मोबाइल से जमीन से सम्बंधित रिकॉर्ड चेक और डाउनलोड कर सकेंगे।

अपनी समस्या या सुझाव यहाँ लिखें